Monday, May 16, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय America' का दावा : Russia ने 7000 सैनिक और भेजे, Ukraine से...

America’ का दावा : Russia ने 7000 सैनिक और भेजे, Ukraine से नहीं लौटी रूसी सेना, हमले का खतरा बरकरार ..

♣♣♣
Ukraine यूक्रेन संकट में नया मोड़ आता दिख रहा है। यूक्रेन सीमा से सैन्य युद्धाभ्यास के बाद देश वापसी के रूसी दावे के बीच अमेरिका ने कहा कि रूस ने दाने के विरुद्ध सीमा पर 7,000 और बल तैनात किए हैं। जबकि रूस-यूक्रेन ने यूक्रेनी सीमावर्ती प्रांत लोहान्स्क में ग्रेनेड और मोर्टार से एक-दूसरे पर हमलों का दावा किया है। उधर, रूसी सैन्य वापसी पर संदेह के बीच नाटो ने अपनी सुरक्षा बढ़ा ली है।

Ukraine यूक्रेन सरकार के नियंत्रण वाले क्षेत्र में रूस की गोलाबारी मिंस्क समझौते का जघन्य उल्लंघन: अमेरिका
Ukraine की राजधानी कीव में अमेरिकी दूतावास की ओर से गुरुवार को कहा गया है कि “रूस ने स्टैनित्सिया लोहान्स्क में गोलीबारी की गई है जो यूक्रेनी सरकार के नियंत्रण वाले क्षेत्र में डोनबास में आता है। इस हमले में एक किंडरगार्टन (नर्सरी स्कूल) को निशाना बनाया गया, जिसमें दो शिक्षक घायल हुए हैं और गांव की बिजली ठप हो गई है। यह हमला, कई अन्य मामलों के साथ, मिंस्क समझौतों का एक जघन्य रूसी उल्लंघन है।”

व्हाइट हाउस ने यहां तक कह दिया है कि रूस कोई भी मनगढ़ंत बहाना बनाकर किसी भी वक्त यूक्रेन पर हमला कर सकता है। बाइडन प्रशासन के अफसरों ने कहा, हम जानते हैं कि रूस के सैन्य वापसी के दावे झूठे हैं। यहां रूस के डेढ़ लाख सैनिक अब भी तैनात हैं जबकि 7,000 सैनिक और भेजे गए हैं। इस बीच, यूक्रेन सीमा पर रूस की बढ़ती ताकत को देखते हुए नाटो के सदस्य देशों ने पूर्वी यूरोप स्थित सदस्यों की सुरक्षा मजबूत करने के नए तरीके तलाशे हैं।

इसके तहत सदस्य देशों ने काला सागर क्षेत्र में सैन्य साजोसामान तत्काल भेजने की रणनीति बनाई। जबकि यूक्रेन के रूस से लगते प्रांत लोहान्स्क में बृहस्पतिवार को चार जगह ग्रेनेड-मोर्टार दागे गए। यूक्रेन का दावा है कि ये कार्रवाई विद्रोही रूस समर्थकों ने की है जबकि रूसी मीडिया ने इसे यूक्रेन सेना की हरकत बताया। स्वघोषित लोहान्स्क पीपुल्स रिपब्लिक अधिकारी ने इसे मिंस्क समझौते का उल्लंघन बताते हुए युद्धविराम का उल्लंघन बताया जबकि यूक्रेन ने कहा, यह रूस समर्थकों की कार्रवाई है जिसे सैन्य समर्थन मिला हुआ है।

जयशंकर आज से जर्मनी व फ्रांस के दौरे पर, सुरक्षा सम्मेलन में लेंगे हिस्सा
विदेश मंत्री एस जयशंकर शुक्रवार से छह दिवसीय दौरे पर जर्मनी और फ्रांस जा रहे हैं। इस दौरान वह सुरक्षा पर एक अहम सम्मेलन में हिस्सा लेंगे और हिंद-प्रशांत क्षेत्र पर मंत्री स्तरीय बैठक के अलावा दोनों देशों से द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे। विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया कि जयशंकर म्यूनिख में सुरक्षा सम्मेलन में शामिल होंगे। उम्मीद है कि इस सम्मेलन में यूक्रेन पर नाटो देशों और रूस में तनाव को लेकर गहन बातचीत होगी। उल्लेखनीय है कि यूक्रेन के मसले पर यूरोपीय संघ के 27 देश भारत के साथ संपर्क में हैं।

ब्लिंकन ने एस्टोनिया की विदेश मंत्री से की मुलाकात
अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोन ब्लिंकन ने गुरुवार को यूरोपीय देश एस्टोनिया की अपनी समकक्ष ईवा मारिया लीमेट्स से मुलाकात की। इस दौरान दोनों ही देशों की ओर से उन्होंने रूस से यूक्रेन सीमा पर तनाव घटाने और सैनिकों को वापस बुलाने की आह्वान किया।

इस संबंध में ब्लिंकन एक ट्वीट में कहा कि एस्टोनिया की विदेश मंत्री ईवा से अमेरिका और उनके देश के बीच गहरी साझेदारी और क्षेत्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा को लेकर मुलाकात हुई। हमने सीमा से रूसी सैनिकों की वापसी और नाटो-यूक्रेन के साथ कूटनीतिक बातचीत का आह्वान करने पर सहमति जताई।

रूसी आक्रमण का खतरा ‘बहुत अधिक’: बाइडन

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने गुरुवार को कहा कि रूसी आक्रमण का खतरा “बहुत अधिक” है क्योंकि उन्होंने अपने किसी भी सैनिक को वापस नहीं बुलाया है। बाइडन ने कहा, “हमारे पास यह मानने का कारण है कि वे यूक्रेन पर हमला करने का बहाना बनाने के लिए एक झूठे ऑपरेशन में लगे हुए हैं।”

बाइडन ने कहा कि “हमें संकेत मिल रहे हैं कि रूस यूक्रेन के अंदर जाने के लिए और उस पर हमला करने के लिए तैयार है।” अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अभी भी ‘राजनयिक मार्ग’ खुले हैं। हालांकि, यह पूछे जाने पर कि क्या वह पुतिन को बुलाएंगे, बाइडन ने कहा, “पुतिन को बुलाने की मेरी कोई योजना नहीं है।”

युद्ध का ट्रिगर दबा सकते हैं पुतिन : ब्लिंकेन
अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने एबीसी न्यूज से बात करते हुए कहा है कि रणनीतिक दस्ते यूक्रेन सीमा की तरफ बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा, हमने बलों की वापसी का कोई संकेत नहीं देखा है। राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन युद्ध का ट्रिगर कभी भी दबा सकते हैं। वह इसे आज दबा सकते हैं, वह इसे कल दबा सकते हैं, वह इसे अगले सप्ताह दबा सकते है।

सैन्य तैनाती जारी

रूस द्वारा सैन्य वापसी के एलान के बावजूद यूक्रेन सीमा पर तनाव जारी है। अमेरिका ने अपने पांच हजार सैनिकों की पोलैंड व रोमानिया में तैनाती शुरू कर दी है। ब्रिटेन भी सैकड़ों की संख्या में सैनिकों को पोलैंड भेज रहा है एवं अतिरिक्त युद्धपोत और विमानों की पेशकश कर रहा हैं। जर्मनी, नीरदलैंड व नार्वे अतिरिक्त सैनिक लिथुआनिया भेज रहे हैं। हवाई सुरक्षा के लिए डेनमार्क और स्पेन लड़ाकू विमान मुहैया करा रहे हैं।

अमेरिकी उम्मीद : रूस ने हमला किया तो भारत देगा अमेरिका का साथ
अमेरिका ने कहा है कि भारत नियम आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के लिए प्रतिबद्ध है। उसने उम्मीद जताई कि यदि रूस ने यूक्रेन पर हमला किया तो भारत निश्चित ही अमेरिका का साथ देगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने बताया कि हाल ही में मेलबर्न में हुई क्वाड देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक में भी भारत के साथ रूस और यूक्रेन के मुद्दे पर चर्चा हुई है।

उन्होंने कहा, हम जानते हैं हमारे भारतीय साझेदार नियम आधारित विश्व व्यवस्था के लिए प्रतिबद्ध है। इस व्यवस्था में अनेक नियम हैं, उनमें से एक यह है कि सैन्य बल के जरिये सीमाओं का पुनर्निर्धारण नहीं हो सकता। भारत व अन्य पड़ोसियों के विरुद्ध चीन के आक्रामक रुख का प्रत्यक्ष जिक्र करते हुए प्राइस ने कहा, बड़े देश छोटे देशों को परेशान नहीं कर सकते। किसी देश के लोग अपनी विदेश नीति, अपने साझेदार, गठबंधन सहयोगी आदि चुनने के हकदार हैं।

वेनेजुएला ने लिया रूस से सैन्य सहयोग का संकल्प

वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने रूस के साथ शक्तिशाली सैन्य सहयोग का संकल्प लिया है। अधिकारियों के बीच बुधवार को हुई उच्च-स्तरीय चर्चा के बाद यह निर्णय लिया गया। इससे एक दिन पहले अमेरिका तथा कई अन्य देशों ने वेनेजुएला में लंबे समय से चले आ रहे संकट का समाधान निकालने के लिए बातचीत की थी। मादुरो ने कहा, हमने शांति, संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए रूस के साथ सैन्य सहयोग का रास्ता खोला है। उन्होंने कहा, हम दुनिया की एक सैन्य ताकत रूस के साथ मिलकर तैयारी, प्रशिक्षण और सहयोग को आगे बढ़ाएंगे।
RELATED ARTICLES

प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को दी कानूनी कार्रवाई की चेतावनी

...इस्लामाबाद,पाकिस्तान ... पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान पर देश में गृहयुद्ध छेड़ने की साजिश रचने तथा राष्ट्रीय संस्थानों के संबंध...

Imran Khan ने दी चेतावनी, कोई भी ताकत उन्हें 20 मार्च को ‘लान्ग मार्च’ निकालने से नहीं रोक सकती

...एबटाबाद,पाकिस्तान ... पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को शहबाज शरीफ सरकार को चेतावनी दी है। पूर्व प्रधानमंत्री ने रविवार को एबटाबाद जनसभा को...

PAK (पाक) सरकार खत्म कर सकती है नवाज शरीफ के भ्रष्टाचार के मामले, वापसी के लिए पूर्व पीएम को नया पासपोर्ट जारी होने की...

..इस्लामाबाद, पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की सत्तारूढ़ पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार के सभी मामलों और...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

मुख्यमंत्री ने परमार्थ निकेतन ऋषिकेश में एक माह तक आयोजित होने वाली राम कथा महायज्ञ की आयोजकों को शुभकामना दी

उत्तराखंड, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को परमार्थ निकेतन ऋषिकेश में एक माह तक आयोजित होने वाली राम कथा महायज्ञ की आयोजकों को शुभकामना...

यात्रियों से अधिक वसूली पर महाराज ने दिये कार्यवाही के आदेश

देहरादून , चारधाम यात्रा के दौरान यात्रियों से निर्धारित दरों से अधिक धनराशि की वसूली की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए सोमवार को प्रदेश के...

मुख्यमंत्री चौहान से म.प्र. व्हील चेयर क्रिकेट टीम के सदस्यों ने की भेंट

मध्य-प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से टी.एन. क्रिकेट अकादमी चेम्पियन मध्यप्रदेश व्हील चेयर क्रिकेट टीम ने आज निवास पर भेंट की। मुख्यमंत्री चौहान को विजेता...

रजिस्ट्रेशन उपलब्धता की जांच करने के बाद ही चारधाम यात्रा शुरू करें तीर्थयात्री!

उत्तराखंड, देहरादून :-- उत्तराखंड के सरकार ने देश भर से चारधाम यात्रा पर आने वाले तीर्थयात्रियों को यात्रा आरंभ करने से पूर्व अनिवार्य रूप से...

मुख्यमंत्री धामी ने अल्मोड़ा स्थित श्री कल्याणिका हिमालय देवस्थानम् के चतुर्थ वार्षिकोत्सव एवं श्री पीठम् स्थापना महोत्सव में प्रतिभाग किया।

कार्यक्रम में सभा को सम्बोधित करते हुए  मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बेहद खूबसूरत स्थान है। उन्होंने कहा कि ऐसे स्थानों पर कोई भी व्यक्ति...

“खेलों के माध्यम से युवाओं को समाज से जोड़ेगा युवा मोर्चा”-अंशुल

देहरादून , भारतीय जनता युवा मोर्चा महानगर देहरादून द्वारा गांधी पार्क में टग ऑफ वार रस्सा कसी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमे 15...

केदारनाथ में हुई हार्ट अटैक से 3 की मौत, चारों धामों में मरने वालों की कुल संख्या पहुची 33

उत्तराखंड।  केदारनाथ दर्शनों को आई तीन महिला यात्रियों की शनिवार को हृदयगति रुकने से की मौत हो गई। इनमें दो की मौत फाटा, जबकि एक...

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मुंबई में अन्य भाजपा नेताओं के साथ महासंकल्प बैठक में हनुमान चालीसा का पाठ किया।

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र में अजान वर्सेज हनुमान चालीसा विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। नवनीत राणा के बाद आज यानी रविवार को महाराष्ट्र के...

उत्तराखंड में भाजपा के दफ्तरों में लगेंगे जनता दरबार, मंत्रीजी सुनेंगे जन शिकायतें

देहरादून ।  जून माह के पहले हफ्ते में भाजपा के दफ्तरों में जनता दरबार लगेंगे। पार्टी मंत्रियों का रोस्टर तैयार करेगी। मंत्रियों के जनता से...

हरिद्वार: आखिर क्यों की बाग में सो रहे चौकीदार की हत्या जानिए वजह

हरिद्वार। कनखल निर्मल में बाग में सो रहे एक चौकीदार की पत्थर और लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। सुबह चौकीदार का खून से...