Home उत्तराखंड सरकारी कर्मचारी का सम्मान नहीं करते कांग्रेस बीजेपी के नेता, किसी की...

सरकारी कर्मचारी का सम्मान नहीं करते कांग्रेस बीजेपी के नेता, किसी की दया से नहीं बल्कि ,ईमानदारी से चलती है नौकरी: कर्नल कोठियाल,आप सीएम उम्मीदवार

 उत्तराखंड :—————————————————

आप सीएम उम्मीदवार कर्नल कोठियाल ने आज वर्चुअल जुडते हुए प्रदेश के कर्मचारियों से नव परिवर्तन संवाद किया। उन्होंने कहा आजकल मैं सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार अपने मन की बात कर रहा हूं और लाखों लोगों तक अपनी बात पहुंचाने की पूरी कोशिश कर रहा हूं जो इस प्रदेश के तंत्र की रीढ़ है ,जो इस प्रदेश के सिस्टम को चलाते हैं और उनके बिना व्यवस्था चल ही नहीं सकती मैं लाखों कर्मचारी साथियों की बात कर रहा हूं। उन्होंने आगे कहा कि जो बात मैं आपसे कर रहा हूं ,वह सिर्फ आपकी नौकरी से जुड़ी भी नहीं है बल्कि जिन का वास्ता हम सबके साथ है । उन्होंने सभी सरकारी और गैर सरकारी कर्मचारियों का अभिनंदन किया और कहा कि आप लोग हैं जो दिन रात बिना रुके ,बिना थके हमारी सरकार को हमारी व्यवस्था को चलाने में अपना योगदान देते हैं। तमाम चुनौतियों से जूझते हुए बिना शिकवा शिकायत के पूरे समर्पण के साथ आप लोग जिस तरह से इस सिस्टम को चला रहे हैं यह उत्तराखंड के लिए गर्व की बात है।

उन्होंने कहा कि कर्मचारी वर्ग विषम परिस्थितियों में भी अपनी सेवाएं सरकार को देते हैं । अब अगले 14 फरवरी को प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं ,जिन को शांतिपूर्ण तरीके से निपटाना और नई सरकार के गठन में आप लोगों की भूमिका अहम होगी। इस वक्त लाखों कर्मचारी चुनाव अभियान में पूरी ताकत से लगे हुए हैं । उन्होंने कहा कि आपसे बात करते हुए मुझे उत्तराखंड राज्य आंदोलन का वह दौर याद आ गया ,जब आप में से लाखों साथियों ने अपनी नौकरी की परवाह किए बिना, सरकार से बिना डरे खुद को पूरी तरह उत्तराखंड राज्य आंदोलन में झोंक दिया था । आप लोगों ने तन मन धन से उत्तराखंड राज्य आंदोलन में अपना योगदान दिया। आप लोगों ने लाखों की तादात में राज्य आंदोलन के दौरान सीधे सरकार से टक्कर ली और राज्य आंदोलन की लड़ाई को एक नई ताकत दी। आपने पौड़ी से लेकर देहरादून ,खटीमा से लेकर मसूरी और रामपुर से लेकर दिल्ली तक लाठी-डंडे खाए जिनमें कई लोग जेल भी गए।

आप लोगों ने अपने परिवार के भविष्य की खातिर अपनी नौकरियां दांव पर लगाई । आप लोगों ने ऐसे राज्य के लिए लड़ाई लड़ी ,जिस राज्य में हमारे सपने साकार हो सकें। आप लोगों की लड़ाई पूरी दुनिया के इतिहास में एक मिसाल है ,इसके लिए मैं आप सभी का हमेशा आभारी रहूंगा। उन्होंने कर्मचारियों से सवाल पूछते हुए कहा कि जो 60 साल तक सरकार की सेवा करता है ,दिन रात सब कुछ छोड़कर केवल अपना फर्ज निभाता है ,उसके बदले में सरकार से उसे क्या मिलता है, मात्र कुछ हजार की पेंशन । उन्होंने आगे पूछा राज्य बनने के बाद और आज 21 साल पूरे होने तक भाजपा और कांग्रेस की सरकारों ने आपके और आपके परिजनों की भलाई के लिए क्या किया, सरकारों ने कर्मचारियों के कल्याण के लिए कौन सी नीति बनाई ।क्या बच्चों के लिए अच्छे स्कूल बनाए गए ,क्या गांव में सुविधाएं प्रदान की गई ,आज भी सरकारी अस्पताल रेफरल सेंटर बन गए हैं, उन्होंने आगे कहा कि ,सरकार की हर गतिविधियों में सरकारी कर्मचारी का बहुत बड़ा योगदान रहता है । सरकारी रूटीन से लेकर हर तरह के काम कर्मचारी करते हैं ,लेकिन आप लोगों को क्या मिलता है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब सरकार अपने घर में क्वॉरेंटाइन थी ,तो आप लोगों ने पूरा मोर्चा संभाला । लोगों की टेस्टिंग से लेकर दवाई ,राशन और जरूरी चीजें पहुंचाने के लिए आपने वैक्सीनेशन अभियान को पूरा करने का काम किया। और जब सरकार को आपको धन्यवाद कहना चाहिए था तो सरकार ने आप लोगों से मुंह फेर लिया । बीजेपी और कांग्रेस की सरकारों ने कभी आपके योगदान की कद्र नहीं की ,बल्कि हमेशा कर्मचारियों को परेशानियों में फंसाए रखा।

लाखों कर्मचारियों को अपनी मांगों के लिए सड़क पर उतरने को सरकार ने मजबूर कर दिया है । चाहे ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करने की बात हो ,चाहे अलग डिपार्टमेंट में ट्रांसफर पॉलिसी लागू करने की मांग हो, चाहे प्रमोशन और वेतन वृद्धि की मांग हो ,या फिर अन्य मांगे , कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर आंदोलन करने को मजबूर हैं । उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं। उन्होंने आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रियों का जिक्र करते हुए कहा कि, 5 साल तक अपनी ड्यूटी निभाने के दौरान भी सरकार ने उनकी मांगें आज तक पूरी नहीं की । इन बहनों को कड़कड़ाती ठंड में सरकार ने अपने छोटे बच्चों के साथ खुले आसमान के नीचे सोने को मजबूर किया और इनको जेल तक में डाला गया। पीआरडी के जवान और उत्तराखंड पुलिस के परिजनों को आंदोलन करने को मजबूर किया गया । उपनल कर्मचारियों को आश्वासन दिए गए लेकिन वादे पूरे नहीं हुए। कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही दल इसके लिए जिम्मेदार हैं। कर्नल कोठियाल ने आगे कहा कि ,दोनों पार्टियों को लगता है कि कर्मचारी उनके गुलाम है हम इनसे जो चाहे करवा लें, लेकिन इसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा । उन्होंने आगे कहा कि नौकरी किसी सरकार की दया से नहीं चलती बल्कि मेहनत और लगन से चलती है।

कर्नल कोठियाल ने कहा कि मैं कर्मचारियों की तकलीफ समझता हूं और इनका समाधान आसानी से निकाला जा सकता है । कर्मचारियों ने 10 ,10 साल भाजपा और कांग्रेस को दिए लेकिन आम आदमी पार्टी आपको गारंटी देती है कि, एक मौका आप पार्टी को दीजिए हम सारी समस्याओं पर फुल स्टॉप लगा देंगे।
उन्होंने कर्मचारियों को गारंटी देते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनते ही एक-एक कर्मचारी को वह सारे हक मिलेंगे जो उसे मिलने चाहिए ,चाहे हमारी आशा बहने हो ,उपनल कर्मचारी हो, पीआरडी और होमगार्ड के जवान हो ,उन सभी को उनका वाजिब हक दिया जाएगा। जिस ओल्ड पेंशन के लिए न केवल उत्तराखंड बल्कि देश के तमाम राज्यों के कर्मचारी आंदोलन कर रहे हैं ,दिल्ली में केजरीवाल जी ने उस ओल्ड पेंशन स्कीम को लागू कर अपने कर्मचारी भाई बहनों को उनका हक दिया ,वहां स्पेशल कोष बनाया गया । उत्तराखंड में भी पुरानी पेंशन स्कीम बहाल की जाएगी। हम सत्ता में आए तो उत्तराखंड में भी सभी कर्मचारियों के लिए यह सभी योजनाएं पूरी करेंगे। इस बार आप सभी लोग बीजेपी और कांग्रेस को छोड़कर आप पार्टी को समर्थन करें।

उन्होंने आगे कहा कि, हमने उत्तराखंड नव निर्माण का संकल्प लिया है जो आप लोगों के प्यार और समर्थन से जरूर कामयाब होगा । इस बार उत्तराखंड के नवनिर्माण के लिए 14 फरवरी को झाड़ू का बटन दबाकर आम आदमी पार्टी को जिताइए, मैं सभी कर्मचारियों का एक बार फिर से आभार प्रकट करता हूं । जय हिंद

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post