Wednesday, February 8, 2023
Home मनोरंजन फिल्म ‘जनहित में जारी’ तमाम मुद्दों पर सीधी चोट करती है, जाने कैसे...

फिल्म ‘जनहित में जारी’ तमाम मुद्दों पर सीधी चोट करती है, जाने कैसे रहा फिल्म का पहला हफ्ता

♦♦♦  ‘जनहित में जारी’  ♦♦♦

फिल्म ‘जनहित में जारी’ हिंदी सिनेमा में मजबूती से उठाया गया एक सधा कदम है। सिनेमा और समाज का रिश्ता जोड़ती फिल्मों के लिए वैसे तो अभी तक आयुष्मान खुराना की ही बात होती रही है, लेकिन प्रयोगों की अति कर चुके आयुष्मान का सितारा जब थोड़ा फीका हो चला है तो उनकी बनाई लीक पर कदम रख दिया है अभिनेत्री नुसरत भरूचा ने। देश के तमाम शहरों का दौरा कर आई फिल्म ‘जनहित में जारी’ की टीम गुरुवार को यहां मुंबई में फिल्म के प्रीमियर पर जुटी तो लोगों ने फिल्म खत्म होने के बाद खड़े होकर इस साहसिक कदम के लिए उन्हें खूब बधाई दी। ये एक तरह के नए सिनेमा का नए फिल्म निर्माता के साथ साथ उदय है। फिल्म ‘जनहित में जारी’ पूरी तरह से एक ऐसी हिंदी फिल्म है, जिसमें तकरीबन सारा काम मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में बाहर से आए लोगों ने संभाला है। फिल्म का एक शुभ संकेत ये भी है कि निर्माता दमदार हो, नए लोगों पर दांव लगाने का दम रखता हो तो उसे कामयाबी मिलती है।

जनहित में जारी
आज के जमाने की युवती की कहानीफिल्म ‘जनहित में जारी’ में जारी की कहानी देश के किसी भी छोटे शहर की कहानी हो सकती है। पढ़ाई लिखाई करके एक अच्छी सी नौकरी करके अपने पैरों खड़े होने की चाहत रखने वाली लड़कियों को बाहरी दुनिया से दो दो हाथ करने से पहले घर में अपने मां-बाप से भिड़ना होता है जिनको अपनी बेटी को लेकर सिर्फ एक जिम्मेदारी समझ आती है और वह है जल्दी से जल्दी उसकी शादी कर देना। मनु की भी यही दुनिया है। वह पेट में तकिया लगाकर बस में सीट का जुगाड़ करती है और जानती है कि ये दुनिया चलती कैसे है। संयोग ऐसा बनता है कि उसे नौकरी की सख्त जरूरत है और जिस नौकरी में उसका चयन हुआ है, वह कंडोम बनाने वाली कंपनी है। उसे अब इस कंपनी के उत्पाद का प्रचार करना है जिसके लिए वह तमाम तरह के जुगाड़ भी ढूंढती रहती है। साथ में कहानी उसके मायके से लेकर ससुराल तक डोलती रहती है।

जनहित में जारी
नुसरत भरूचा की नायाब अदाकारीनुसरत भरूचा का फिल्मी सफर लंबा रहा है। अब जाकर उन्हें भी लगने लगा है कि उनके अच्छे दिन आ रहे हैं। ऐसा लगना भी चाहिए क्योंकि जब निर्माता, निर्देशक किसी अभिनेत्री के भरोसे फिल्म बनाने का फैसला कर ले, तो ये किसी भी अभिनेत्री के लिए कम से कम हिंदी सिनेमा में बहुत बड़ी बात होती है। नुसरत भरूचा को ऐसे मौके इधर मिल भी खूब रहे हैं। अक्षय कुमार जैसे सितारों के साथ काम करने का मौका पा चुकीं, नुसरत को सिर्फ उनके कंधों पर टिकी फिल्में भी मिल रही हैं। फिल्म ‘जनहित में जारी’ एक तरह से उनकी ही शो रील है। पूरी फिल्म उन्होंने अपने कंधों पर उठा रखी है। फिल्म के पहले 30 मिनट कब गुजर गए, पता भी नहीं चलता और इन पहले 30 मिनट में पूरा कमाल सिर्फ नुसरत भरूचा का ही रहता है। कंडोम बेचने वाली लड़की का किरदार नुसरत ने जिस सहजता से निभाया है, उसके लिए वह वाकई पुरस्कार की हकदार हैं।

जनहित में जारी
परितोष, अनुद और विजय राज चमकेफिल्म ‘जनहित में जारी’ में नुसरत भरूचा का साथ देने के लिए इसके निर्माताओं ने तमाम नए पुराने कलाकारों की टीम उतारी है। मोहल्ले की युवती को चाहने वाले देवी के किरदार में परितोष त्रिपाठी का काम सबसे शानदार रहा है। वह परदे पर आते ही दर्शकों के चेहरे पर मुस्कान ले आते हैं। अनुद सिंह के लिए हिंदी सिनेमा में अपनी जगह बनाने का ये शानदार मौका है। किस्मत है उनकी कि उन्हें एक ऐसी प्रयोगात्मक फिल्म में हीरो बनने का मौका मिला, जिसके लेखक और निर्माता कुछ नया करना चाहते हैं। और, विजय राज तो हैं ही कमाल। एक पारंपरिक परिवार के मुखिया के तौर पर वह प्रभावित करते हैं। जब वह बेटे को पीटने दौड़ते हैं तो दर्शकों को परिवार अपना सा लगता है और जब वह बहू को घर से निकालने की बात करते हैं, तो उनका रौब देखने लायक होता है।

जनहित में जारी
ऋषिकेश मुखर्जी की याद दिलाती फिल्मफिल्म के निर्देशन का जिम्मा है नए निर्देशक जय बसंतू सिंह के पास। मूल रूप से फिल्म संपादन में महारत रखने वाले जय बसंतू की गाड़ी इस फिल्म के बाद बतौर निर्देशक चल निकलने वाली है। फिल्म एडीटर से फिल्म डायरेक्टर बनने वालों का हिंदी सिनेमा में अच्छा इतिहास रहा है और जय बसंतू की ये फिल्म ऐसे ही एक उम्दा निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी के सिनेमा के काफी करीब है। फिल्म देखकर कई बार ऐसा लगता है कि न्यू मिलेनियल्स के लिए ये साल 2022 में ये ऋषिकेश मुखर्जी का ही नया सिनेमा है। जय बसंतू ने अपनी फिल्म के लिए फिल्म के लेखकों और इसकी तकनीकी टीम से भरपूर मदद पाई है।

जनहित में जारी
देखें कि न देखें..अगर आपको सामाजिक मुद्दों पर बनी बेहतरीन कॉमेडी फिल्में पसंद रही हैं तो फिल्म ‘जनहित में जारी’ आपके लिए ही है। ये फिल्म तमाम मुद्दों पर सीधी चोट करती है लेकिन इसका  भी ध्यान रखती है कि ये सेक्स एजूकेशन पर बनी फिल्म बनकर न रह जाए। पुरुषों को उनकी जिम्मेदारी का बार बार एहसास कराने वाली ये फिल्म ऐसे हर मौके पर भले हंसी ले आती हो, लेकिन इन व्यंग्य के पीछे वह सोच भी साफ झलकती है जिसे नए जमाने की युवतियां कब का अपना चुकी हैं, पता नहीं उनके घरवालों को खबर हुई कि नहीं। फिल्म ‘जनहित में जारी’ इस वीकएंड आपकी विश लिस्ट में शामिल होने वाली फिल्म है, इसे देखिए ताकि हिंदी सिनेमा में ओरिजिनल कहानियां का परचम लहराता रहे और फिल्मी परिवारों के बाहर के लोग अपनी स्थिति इसी तरह हिंदी सिनेमा में मजबूत करते रहें।
RELATED ARTICLES

फिल्म शहजादा का ट्रेलर रिलीज, एक्शन स्टार बन कार्तिक ने मारी एंट्री

♦♦♦ कार्तिक आर्यन,  फिल्म शहजादा ♦♦♦ कार्तिक आर्यन को पिछली बार फिल्म फ्रेडी में देखा गया था, जिसके बाद से उनसे दर्शकों की उम्मीदें और...

सिद्धार्थ मल्होत्रा-कियारा आडवाणी 6 फरवरी को लेंगे सात फेरे

मनोरंजन ; सिद्धार्थ मल्होत्रा और कियारा आडवाणी इन दिनों बॉलीवुड की सबसे चर्चित जोडिय़ों में से एक हैं। हाल ही में दोनों नए साल का...

देहरादून के मैक्स अस्पताल में क्रिकेटर ऋषभ पंत का हाल जानने पहुंचे अभिनेता अनिल कपूर और अनुपम खेर

देहरादून। रुड़की में सड़क दुर्घटना में घायल भारतीय टीम के क्रिकेट खिलाड़ी ऋषभ पंत की स्पाइन और ब्रेन की एमआरआइ रिपोर्ट सामान्य है। मैक्स अस्पताल...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

दीनदयाल मिनी सचिवालय के स्वरुप को विकसित करने में तेजी लायें : महाराज

पंचायतीराज विभाग बैठक में सतत विकास लक्ष्यों को हासिल करने पर जोर देहरादून। ग्राम पंचायतों में सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए विभागों...

काश्तकारों का मुआवजा समय पर दिया जाए : महाराज

विधानसभावार द्वितीय चरण स्टेज-2 सड़कों की हुई समीक्षा, मंत्री ने की विधानसभा क्षेत्र चौबट्टाखाल में सड़कों की रिपोर्ट तलब देहरादून। प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, पंचायती...

सीएम धामी से अंतर राज्य छात्र जीवन दर्शन के अंतर्गत पूर्वोत्तर भारत से आये छात्रों के दल ने की भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से देर सायं मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्यमंत्री सेवक सदन में अंतर राज्य छात्र जीवन दर्शन के अंतर्गत पूर्वोत्तर भारत से...

क्षेत्रीय विधायक व मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने दिव्य श्रीराम कथा के दूसरे दिन शिरकत की और प्रदेश की खुशहाली की कामना की।

उत्तराखंड प्राचीन सोमेश्वर महादेव प्रांगण में हो रही भव्य श्री राम कथा के दूसरे दिवस में संत श्री लक्ष्मी नारायणनंद जी महाराज ने सत्संग की...

महाराज ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से भेंट कर उनकी कुशलक्षेम पूछी

देहरादून / दिल्ली। प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, सिंचाई, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति सतपाल महाराज ने केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जोशीमठ के लिए राहत सामग्री को झंडी दिखाकर किया रवाना

उत्तराखंड, नई दिल्ली मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में भाजपा उत्तराखंड प्रकोष्ठ, फरीदाबाद व  हरियाणा प्रोग्रेसिव स्कूल कांफ्रेंस...

धाकड़ ध्यानी के दमदार फैसलों पर सीएम धामी की मुहर, पिटकुल MD पद पर मिला एक साल का सेवा विस्तार

देहरादून। ऊर्जा क्षेत्र में पारदर्शिता और स्वस्थ कार्यप्रणाली प्रबंधन विकसित करने की कवायद में जुटे हैं पिटकुल के प्रबंध निदेशक पीसी ध्यानी। अपनी माटी और...

दुनिया को एकता के सूत्र में पिरोने का कार्य किया’संत रविदास ने – कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या

  उत्तराखंड,   देहरादून   आज प्रदेश की कैबिनेट मंत्री श्रीमती रेखा आर्या संत रविदास जी की जयंती के अवसर पर सेलाकुई स्थित कार्यक्रम में पहुंची। जहां...

महाराज ने एशिया के पहले होम स्टे हब तिवाड गांव मरोड को किया पर्यटन ग्राम घोषित

सतपाल महाराज ने कुलानंद आश्रम सेम-मुखेम में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में भी किया प्रतिभाग टिहरी। वर्ष 2023 को विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं बैठक का आयोजन किया गया।

 उत्तराखंड, देहरादून : उत्तराखण्ड के मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में शनिवार को देहरादून में मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं...