Sunday, June 26, 2022
Home उत्तराखंड जिलाधिकारी मयूर दीक्षित : संबंधित सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद करने के लिए संबंधित...

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित : संबंधित सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए है

♦♦♦

श्री केदारनाथ धाम यात्रा को सुव्यवस्थित ढंग व सफल संचालन हेतु जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन द्वारा सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जा रही हैं ताकि केदारनाथ धाम में आने वाले तीर्थयात्रियों को किसी प्रकार की कोई असुविधा न हो। इस आशय की जानकारी देते हुए जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने कहा कि यात्रा से संबंधित सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए है तथा सभी विभागीय अधिकारियों द्वारा अपनी-अपनी व्यवस्थाएं निरंतर सुचारू की जा रही हैं जिसमें स्वास्थ्य, पेयजल, विद्युत शौचालय, पार्किंग, शटल, सुरक्षा आदि व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही हैं।

जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि श्री केदारनाथ यात्रा में आने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या के दृष्टिगत केदारनाथ धाम में उपलब्ध व्यवस्थाओं के अनुरूप ही यात्रियों को केदारनाथ हेतु रवाना किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष की यात्रा में अप्रत्याशित संख्या में श्रद्धालुओं के आने की आशा है। वर्ष 2019 की तुलना में इस वर्ष के शुरूआती दिनों में ही यात्रियों की संख्या में भारी वृद्धि देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि कपाट खुलने के बाद से बुधवार (11 मई) तक लगभग 96 हजार लोगों ने केदारनाथ पहुंचकर दर्शन कर लिए हैं।

लोगों की सुविधाओं को लेकर कई इंतजाम किए गए हैं साथ ही जैसे-जैसे यात्रियों की संख्या बढ़ेगी उन इंतजामों में भी वृद्धि की जाएगी। शौचालयों की संख्या को बढ़ाया गया है तथा पेयजल की भी सुचारू व्यवस्था कर ली गई है। उन्होंने केदारनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं से अपील की है कि यदि किसी व्यक्ति को स्वास्थ्य संबंधी कोई दिक्कत है वे अपनी जांच अवश्य कराएं। साथ ही पैदल मार्ग में रुक-रुक कर यात्रा करें। उन्होंने बताया कि यात्रा व्यवस्था के दृष्टिगत धाम में पहुंच चुके यात्रियों की मॉनीटरिंग की जा रही है तथा रुद्रप्रयाग से गौरीकुंड के मध्य उन्हें रोका जा रहा है। जैसे-जैसे जगह मिले उसी के अनुसार उन्हें भेजा जा रहा है। उन्होंने सभी से ध्यैर्य बनाए रखने की अपील की है तथा यात्रा में आने वाले लोगों से अनिवार्य रूप से अपना पंजीकरण करवाने की अपील की गई है।

उन्होंने यह भी अवगत कराया है कि पुलिस विभाग द्वारा श्री केदारनाथ धाम यात्रा में आने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या के दृष्टिगत जनपद के सीमांतर्गत सिरोबगड़, जवाड़ी बायपास, तिलवाड़ा, अगस्त्यमुनि, कुंड, गुप्तकाशी, सोनप्रयाग, गौरीकुंड इत्यादि विभिन्न स्थानों एवं गौरीकुंड से केदारनाथ 16 कि.मी. पैदल यात्रा मार्ग के विभिन्न पड़ावों में शांति एवं सुरक्षा हेतु आवश्यकता के अनुसार पुलिस बल नियुक्त कर बैरियर लगाए गए हैं। यात्रा मार्ग एवं केदारनाथ धाम में उपलब्ध व्यवस्थाओं के अनुरूप यात्रा के प्रथम पड़ाव सोनप्रयाग से प्रातः 3 बजे से प्रातः 11 बजे तक ही तीर्थ यात्रियों को श्री केदारनाथ धाम के दर्शन हेतु आगे प्रवेश करने की अनुमति दी जा रही है तथा प्रत्येक घंटे में शटल सेवा की संख्या की मॉनीटरिंग की जा रही है।

उन्होंने बताया कि गौरीकुंड में वाहनों के पार्किंग हेतु पूर्व से स्थल उपलब्ध न होने के कारण सोनप्रयाग से आगे स्थान गौरीकुंड तक यात्रियों के आवागमन हेतु परिवहन विभाग द्वारा शटल सेवा के माध्यम से सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। इसके अलावा प्रतिदिन आने वाले तीर्थ यात्रियों की सुविधा व सुरक्षा हेतु यात्रा कंट्रोल रूम के माध्यम से हर एक घंटे गौरीकुंड से ऊपर जाने वाले यात्रियों की संख्या तथा केदारनाथ धाम में दर्शन करने वाले यात्रियों की संख्या की मॉनीटरिंग की जा रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ मंच पर विराजमान होकर कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

उत्तराखंड, गुजरात  आज केवड़िया (गुजरात) में दो दिवसीय नेशनल कांफ्रेंस ऑफ मिनिस्टर्स ऑफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स का दूसरा और आखिरी दिन था। अपरान्ह के...

इंडियन ऑयल ने लॉन्च किया सौर चूल्हा , अब खाना पकाना होगा बेहद सस्ता, जानिए इसकी खासियत

New दिल्ली; भारत की प्रमुख तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) ने बुधवार को घर के अंदर इस्तेमाल किया जाने वाला सौर चूल्हा पेश किया,...

CM धामी ने लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान समारोह कार्यक्रम में किया प्रतिभाग, 27 लोकतंत्र सेनानियों और उनके परिजनों को किया सम्मानित

 उत्तराखंड,  देहरादून :- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को बिगवाड़ा स्थित पार्टी कार्यालय पहुॅचकर ’’आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा हेतु संघर्ष करने एंव...

ससुर ने निभाया पिता का फर्ज, बेटे की मौत के बाद करवाई विधवा बहू की दूसरी शादी

ऋषिकेश ; जिसे कभी बहू बनाकर अपने घर लाए थे, उसे बेटी बनाकर विदा किया। ऐसे उदाहरण समाज में कम ही देखने को मिलते हैं।...

अभद्रता और मारपीट जैसी घटना होने पर चुप न रहे पर्यटक, शिकायत दर्ज कराएं

Rishikesh ; मुनिकीरेती थाना क्षेत्र में राफ्टिंग गाइडों और हेल्परों के पर्यटक के साथ मारपीट करने के कई मामले मामला सामने आए। कुछ मामले में...

आपदा प्रबंधन में मीडिया की भूमिका पर कार्यशाला आयोजित हुई।

आपदा के दौरान मीडिया की होती है अहम भूमिका इस अवसर पर अपर सचिव आपदा प्रबंधन आनन्द श्रीवास्तव ने कहा कि मीडिया की भूमिका आपदा...

……दूरस्थ क्षेत्रों में विज्ञान शिक्षा का प्रचार-प्रसार कर रहा यूसर्क

Tehri Garhwal; विश्वविद्यालय और कालेजों में कार्यरत शिक्षकों में गणितीय प्रतिभा का विकास करने के लिए यहां जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में आयोजित 13...