Sunday, June 26, 2022
Home उत्तराखंड फूलों की घाटी में खिलने लगे हैं फूल, एक जून से पर्यटक...

फूलों की घाटी में खिलने लगे हैं फूल, एक जून से पर्यटक कर सकेंगे दीदार, जुलाई-अगस्त में 300 से अधिक प्रजाति के खिलते हैं फूल

उत्तराखंड / चमोली।

फूलों की घाटी विभिन्न तरह के फूलों और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए प्रसिद्ध है। यहां पर अक्सर मई के आखिरी और जून के प्रथम सप्ताह से फूल खिलने शुरू हो जाते हैं। एक जून से घाटी पर्यटकों के लिए खोल दी जाएगी, लेकिन इस बार घाटी में दो सप्ताह पहले ही कई तरह के फूल खिल चुके हैं, जिसमें पोटैंटिला, वाइल्ड रोज, मोरया लोगी, फूलीया, प्रिमुला आदि फूल शामिल हैं। 87.50 वर्ग किमी क्षेत्र में फैली घाटी उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित है। यहां पर बर्फ पिघलने के बाद फूलों के पौधों में नई कोंपलें आने लगती हैं और इसके साथ ही उनमें फूल खिलने का सिलसिला शुरू हो जाता है। इस बार भी सर्दियों में अच्छी बर्फबारी हुई थी, लेकिन तेज गर्मी पड़ने से बर्फ तेजी से पिघल गई है, जिससे चलते यहां समय से पहले फूल खिलने शुरू हो गए हैं।

जुलाई-अगस्त में 300 से अधिक प्रजाति के खिलते हैं फूल
फूलों की घाटी रेंज के वन क्षेत्राधिकारी बृज मोहन भारती का कहना है कि घाटी में इस वर्ष फूल खिलने का दौर दो सप्ताह पहले ही शुरू हो गया है। उच्च हिमालयी क्षेत्र में बर्फ जल्द पिघलने के कारण ऐसा हो रहा है। अभी वहां कई तरह के फूल खिल चुके हैं। घाटी एक जून से पर्यटकों के लिए खोली जाएगी। फूलों की घाटी जुलाई और अगस्त महीने में अपने चरम पर होती है। इस दौरान घाटी में 300 से अधिक प्रजाति के फूल खिलते हैं। इसी समय यहां देश-विदेश के सबसे अधिक सैलानी फूलों का दीदार करने आते हैं। इन दो महीनों तक घाटी पर्यटकों से गुलजार रहती है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ मंच पर विराजमान होकर कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

उत्तराखंड, गुजरात  आज केवड़िया (गुजरात) में दो दिवसीय नेशनल कांफ्रेंस ऑफ मिनिस्टर्स ऑफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स का दूसरा और आखिरी दिन था। अपरान्ह के...

इंडियन ऑयल ने लॉन्च किया सौर चूल्हा , अब खाना पकाना होगा बेहद सस्ता, जानिए इसकी खासियत

New दिल्ली; भारत की प्रमुख तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) ने बुधवार को घर के अंदर इस्तेमाल किया जाने वाला सौर चूल्हा पेश किया,...

CM धामी ने लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान समारोह कार्यक्रम में किया प्रतिभाग, 27 लोकतंत्र सेनानियों और उनके परिजनों को किया सम्मानित

 उत्तराखंड,  देहरादून :- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को बिगवाड़ा स्थित पार्टी कार्यालय पहुॅचकर ’’आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा हेतु संघर्ष करने एंव...

ससुर ने निभाया पिता का फर्ज, बेटे की मौत के बाद करवाई विधवा बहू की दूसरी शादी

ऋषिकेश ; जिसे कभी बहू बनाकर अपने घर लाए थे, उसे बेटी बनाकर विदा किया। ऐसे उदाहरण समाज में कम ही देखने को मिलते हैं।...

अभद्रता और मारपीट जैसी घटना होने पर चुप न रहे पर्यटक, शिकायत दर्ज कराएं

Rishikesh ; मुनिकीरेती थाना क्षेत्र में राफ्टिंग गाइडों और हेल्परों के पर्यटक के साथ मारपीट करने के कई मामले मामला सामने आए। कुछ मामले में...

आपदा प्रबंधन में मीडिया की भूमिका पर कार्यशाला आयोजित हुई।

आपदा के दौरान मीडिया की होती है अहम भूमिका इस अवसर पर अपर सचिव आपदा प्रबंधन आनन्द श्रीवास्तव ने कहा कि मीडिया की भूमिका आपदा...

……दूरस्थ क्षेत्रों में विज्ञान शिक्षा का प्रचार-प्रसार कर रहा यूसर्क

Tehri Garhwal; विश्वविद्यालय और कालेजों में कार्यरत शिक्षकों में गणितीय प्रतिभा का विकास करने के लिए यहां जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में आयोजित 13...