Home उत्तराखंड गैरसैंण जाकर माफी मागेंगे पूर्व सीएम हरीश रावत, जानें भाजपा सरकार का...

गैरसैंण जाकर माफी मागेंगे पूर्व सीएम हरीश रावत, जानें भाजपा सरकार का कौन सा फैसला गुजरा नागवार

उत्तराखंड / देहरादून।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत गैरसैंण के भराड़ीसैंण में जाकर माफी मागेंगे। अपने फेसबुक पेज पर हरीश रावत लिखते हैं कि जनता से क्षमा मांगने के अतिरिक्त और कुछ करना शेष नहीं है। गैरसैंण भराड़ीसैंण विधानसभा में बजट सत्र नहीं करने का फैसला पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को बेहद नागवार गुजरा है। उन्होंने सवाल उठाया है कि चारधाम यात्रा तो हर साल होगी क्या भराड़ीसैंण में कभी बजट सत्र नहीं होगा? उन्होंने प्रदेश सरकार और माननीयों पर भी तंज किया कि गैरसैंण नहीं जाने के बहाने खोजे जा रहे हैं।

पूर्व सीएम हरीश रावत, उनके शासनकाल में भराड़ीसैंण में 1000 करोड़ रुपये खर्च हुआ, लेकिन वहां जाने के लिए कोई तैयार नहीं है। इसलिए उन्होंने तय किया है कि 14 जून को जब देहरादून विधानसभा में बजट सत्र हो रहा होगा, वह क्षमायाचना के लिए गैरसैंण में होंगे। गैरसैंण के प्रति उपेक्षा का यह दर्द रावत ने अपने फेसबुक पेज पर बयान जारी कर किया है। उन्होंने लिखा, गैरसैंण-भराड़ीसैण शब्दों की हम कितनी ही चासनी परोसें, मगर जब भी कोई बहाना मिला है, जिससे गैरसैंण-भराड़ीसैंण से बचा जा सके, बड़े लोग बचे हैं। इस बार बहाना चारधाम यात्रा है। यात्रा हर वर्ष होगी और चारधाम यात्रा में चुनौतियां भी आएंगी तो इसका अर्थ है कि भराड़ीसैंण में कभी बजट सत्र होगा ही नहीं। बजट सत्र ही क्यों, कभी बरसात होगी, कभी ठंड होगी, तो भराड़ीसैंण का विधानसभा भवन केवल एक स्तूप के तरीके से हम सब लोगों के कृतित्व का साक्षी बनता रहेगा। मैंने तय किया है कि 14 को जब देहरादून में विधानसभा शुरू होगी तो मैं भराड़ीसैंण में जाकर विधान भवन से सारे उत्तराखंड के लोगों को प्रणाम करूंगा।

हरीश रावत ने कहा कि आज जिस तरीके से भराड़ीसैंण याचक के तौर पर वरमाला लिए अपने मान्यवरों के स्वागत के लिए एकटक निहार रहा है और उसकी माला स्वीकार करने के लिए न सरकार तैयार है, न मान्यवर। ऐसी स्थिति में मेरे जैसे व्यक्ति के लिए राज्य की जनता से क्षमा मांगने के अतिरिक्त और कुछ करना शेष नहीं है। उन्होंने सवाल किया कि ग्रीष्मकालीन राजधानी और 25 हजार करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा करने वाले त्रिवेंद्र सिंह रावत, भराड़ीसैंण विधानसभा भवन के विचार के जनक सतपाल महाराज, गैरसैंण में प्रथम कैबिनेट मीटिंग आहूत करने वाले विजय बहुगुणा और निरंतर गैरसैंण-भराड़ीसैंण की जागर लगाने वाले पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल सहित कई लोगों से समय जरूर पूछेगा कि ऐसे समय में जब भराड़ीसैंण की उपेक्षा के लिए बहाना ढूंढा जा रहा है तो आप कहां पर खड़े हैं।

RELATED ARTICLES

महाराज ने एशिया के पहले होम स्टे हब तिवाड गांव मरोड को किया पर्यटन ग्राम घोषित

सतपाल महाराज ने कुलानंद आश्रम सेम-मुखेम में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में भी किया प्रतिभाग टिहरी। वर्ष 2023 को विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं बैठक का आयोजन किया गया।

 उत्तराखंड, देहरादून : उत्तराखण्ड के मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में शनिवार को देहरादून में मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने आयुष विभाग के अन्तर्गत प्रदेश में पंचकर्मा केन्द्रों को बढ़ावा दिए जाने के सम्बन्ध में बैठक की।

उत्तराखंड, Dehradun; मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने शुक्रवार को सचिवालय में आयुष विभाग के अन्तर्गत प्रदेश में पंचकर्मा केन्द्रों को बढ़ावा दिए जाने के...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

महाराज ने एशिया के पहले होम स्टे हब तिवाड गांव मरोड को किया पर्यटन ग्राम घोषित

सतपाल महाराज ने कुलानंद आश्रम सेम-मुखेम में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में भी किया प्रतिभाग टिहरी। वर्ष 2023 को विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं बैठक का आयोजन किया गया।

 उत्तराखंड, देहरादून : उत्तराखण्ड के मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में शनिवार को देहरादून में मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने आयुष विभाग के अन्तर्गत प्रदेश में पंचकर्मा केन्द्रों को बढ़ावा दिए जाने के सम्बन्ध में बैठक की।

उत्तराखंड, Dehradun; मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने शुक्रवार को सचिवालय में आयुष विभाग के अन्तर्गत प्रदेश में पंचकर्मा केन्द्रों को बढ़ावा दिए जाने के...

जोशीमठ जैसी तबाही के मुहाने पर आया डोडा का ठाठरी इलाका, 10 से 12 घरों में पड़ी दरारें

जम्मू- कश्मीर। जोशीमठ जैसी तबाही के मुहाने पर डोडा का ठाठरी इलाका भी आ गया है। यहां की नई बस्ती में जमीन धंसने से 10...

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने किया इंटिरियर डिजाइन के शो रूम का विधिवत उद्घाटन

"घर वहीं है जहां दिल है" इस प्रकार के अभिनव प्रयासों से युवाओ को मिलती है प्रेरणा-रेखा आर्या देहरादून। कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने आज राजपुर...

प्रभावित को धनराशि समय पर न दिए जाने पर भड़के मंत्री, अधिकारियों की लगाई क्लास

महाराज ने जनपद को दी 14 करोड़ की सौगात, 12.46 करोड़ की धनराशि ग्राम पंचायतों के खाते में की ट्रांसफर  उत्तराखंड, टिहरी  पुनर्वास हेतु सरकार द्वारा निर्गत धनराशि...

मुख्यमंत्री धामी ने अस्पताल पहुंचकर मोहन सिंह गांववासी से मुलाकात की तथा उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली।

उत्तराखंड, देहरादून : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शुक्रवार को वरिष्ठ नेता तथा पूर्व मंत्री मोहन सिंह गांववासी की कुशलक्षेम जानने के लिए हिमालयन अस्पताल...

भारत के स्वर्णिम भविष्य की नींव है बजट- डॉ0 धन सिंह रावत

देहरादून। केन्द्र सरकार के बजट को कैबिनेट मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत ने ऐतिहासिक बताया। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय बजट को भारत के स्वर्णिम भविष्य...

राजधानी दिल्ली में बने मध्यप्रदेश सरकार के नए भवन का आज शाम सीएम शिवराज करेंगे उद्घाटन

मध्य प्रदेश। देश की राजधानी दिल्ली में बने मध्यप्रदेश सरकार के नए आशियाने का आज यानि की गुरुवार को शाम 6:30 बजे सीएम शिवराज सिंह...

महाराज ने चौबट्टाखाल को फिर दिया 37 करोड़ की योजनाओं का तोहफा

जयहरीखाल (पौडी)। चौबट्टाखाल विधायक और प्रदेश के पंचायती राज, पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने एक...