Home हेल्थ एक पैर पर 10 सेकंड खड़े नहीं रह सकते तो मौत का...

एक पैर पर 10 सेकंड खड़े नहीं रह सकते तो मौत का ज्यादा खतरा

♣♣♣

अगर आपको एक पैर पर 10 सेकंड भी खड़े होने में दिक्कत होती है तो समझ जाइए कि आपकी उम्र लंबी नहीं है। दरअसल, हाल ही में एक शोध से पता चलता है कि जो लोग एक पैर पर 10 सेकेंड भी खड़े नहीं हो सकते, उनकी 10 साल के भीतर मरने की संभावना अधिक है यानी आपकी बैलेंसिंग और अंदरूनी स्वास्थ्य के बीच गहरा रिश्ता है। आइए जानते हैं कि शोध में क्या-क्या बातें सामने आई ।

इस शोध के लिए अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, फिनलैंड और ब्राजील के विशेषज्ञों ने बैलेंस और मृत्यु दर के बीच वाले संबंधों का पता लगाने के लिए 12 साल तक अध्ययन किया। इस शोध के परिणाम ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में प्रकाशित किए गए हैं, जिसमें बताया गया कि जो लोग 10 सेकंड तक भी एक पैर पर खड़े नहीं हो पाते हैं उनमें 10 वर्षों में मौत का खतरा दोगुना हो जाता है।

कैसे किया गया यह शोध?
2008 से 2020 तक हुए इस शोध में 51-75 साल के 1,702 लोग शामिल किए गए, जिन्हें बिना किसी सहारे के 10 सेकंड तक एक पैर पर खड़े होने को कहा गया। सभी को एक पैर अपने दूसरे पैर के पीछे और दोनों हाथ साइड में रखने थे। सभी को तीन मौके दिए गए, लेकिन हर पांच में से एक व्यक्ति (21 प्रतिशत) टेस्ट में फेल हो गया। 71-75 आयु वर्ग के 54 प्रतिशत लोग यह टेस्ट पूरा करने में असमर्थ रहे।

असफल रहे 17.5 प्रतिशत लोगों की अगले 10 सालों में मौत
इस टेस्ट को पूरा करने में असफल रहे लोगों में से 17.5 प्रतिशत लोगों की अगले 10 सालों में किसी न किसी कारण से मौत हो गई। वहीं जिन लोगों ने इस टेस्ट को पास किया था, उनमें से 4.5 प्रतिशत लोगों की अगले 10 सालों में मौत हुई। जो लोग इस टेस्ट में असफल रहे, उनमें अगले 10 वर्षों में किसी भी कारण से मृत्यु का 85 प्रतिशत अधिक जोखिम था।

बीमारियों से ग्रस्त हुए टेस्ट में असफल
इस टेस्ट में असफल लोग किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त थे और जो लोग 10 सेकंड तक एक पैर पर नहीं खड़े हो पाए उन लोगों को टाइप-2 मधुमेह था। वहीं, बाकियों को मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर और हृदय रोगों की शिकायत थी।

खराब जीवनशैली से जुड़ा खराब बैलेंस
इस शोध के प्रमुख शोधकर्ता डॉ क्लाडियो गिल अराजुओ ने कहा, मेरा मानना है कि शरीर का खराब बैलेंस खराब जीवनशैली से जुड़ा हुआ है यानी जो लोग टेस्ट में असफल रहे वे शारीरिक रूप से सक्रिय नहीं रहते हैं और न ही एक्सरसाइज करते हैं। उन्होंने यह भी कहा, मुझे लगता है कि 51-75 साल के लोगों को अपने रुटीन हेल्थ चेक-अप में सेफ बैलेंस टेस्ट भी शामिल करना चाहिए।

RELATED ARTICLES

गुस्सा भी कम जानलेवा नहीं, बिगाड़ देता है शरीर का संतुलन, इन बीमारियों को देता है हवा

♣ ♣ ♣ आपने अपने बड़े-बूढ़ों को अक्सर यह कहते हुए सुना होगा कि गुस्सा कई बीमारियों की जड़ है. आज का युवा ये बात...

बंद नाक से राहत पाने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू नुस्खे, जल्द मिलेगा फायदा

*बंद नाक* आजकल का मौसम कभी धूप तो कभी बरसात वाला हो रहा है। ऐसे बदलते मौसम में बंद नाक एक सामान्य समस्या है, जिससे...

हार्ट और किडनी के लिए बहुत फायदेमंद है केला, जानें इस फल को खाना क्यों है जरूरी?

1- केला स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें कई जरूरी पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सेहतमंद रहने के लिए बहुत जरूरी हैं।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

काबुल के स्कूलों में कक्षा 1 से 6 तक की छात्राओं को दिया गया जहर

काबुल। अफगानिस्तान में एक शिक्षा अधिकारी ने कहा कि लगभग 80 लड़कियों को स्कूलों में जहर दिया गया, जिसके बाद वे सभी अस्पताल में भर्ती...

सीएम धामी ने 272 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान करते हुए उन्हें बधाई व उनके उज्जवल भविष्य की कामना की

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्राविधिक शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में 272 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किये। प्राविधिक शिक्षा विभाग द्वारा पॉलिटेक्निक...

गुस्सा भी कम जानलेवा नहीं, बिगाड़ देता है शरीर का संतुलन, इन बीमारियों को देता है हवा

♣ ♣ ♣ आपने अपने बड़े-बूढ़ों को अक्सर यह कहते हुए सुना होगा कि गुस्सा कई बीमारियों की जड़ है. आज का युवा ये बात...

मानसखंड मंदिर माला मिशन के तहत कुमाऊं मंडल के 16 पौराणिक मंदिरों को किया जाएगा विकसित- सीएम धामी

देहरादून। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि मानसखंड मंदिर माला मिशन के तहत कुमाऊं मंडल के 16 पौराणिक मंदिरों को विकसित किया जाएगा, जिससे...

भूस्खलन में फंसे आदि कैलाश यात्रा के 40 तीर्थयात्रियों को एसडीआरएफ ने बचाया, 120 मीटर तक सड़क हुई ध्वस्त

पिथौरागढ़। एसडीआरएफ ने पिथौरागढ़ में भूस्खलन में फंसे आदि कैलाश यात्रा के 40 तीर्थयात्रियों को बचाया। उन्हें सुरक्षित धारचूला ले जाया गया। उत्तराखंड पुलिस ने...

देहरादून में स्ट्रीट डॉग अभियान के सफलता पूर्वक 5 साल पूरे होने के मौके पर और समुदाय के सदस्यों को सम्मानित किया गया

HSI / India ने उत्तराखंड में नसबंदी अभियान के 5 साल पूरे होने पर समारोह का आयोजन किया गया। देहरादून। 28 मई : प्रमुख पशू संरक्षण...

आज से पटरी पर दौड़ेगी वंदे भारत एक्सप्रेस, कई ट्रेनों के समय में हुआ बदलाव, ट्रेनों का समय देखकर ही स्टेशन पहुंचे यात्री

देहरादून। वंदे भारत एक्सप्रेस सोमवार सुबह सात बजे देहरादून से दिल्ली के लिए रवाना हुई। इससे पहले इस सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस...

सीएम धामी ने पीएम मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार की 9 साल की उपलब्धियों की दी जानकारी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को राजपुर रोड स्थित होटल में मीडिया से संवाद करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित मुख्यमंत्री परिषद की बैठक में प्रतिभाग किया।

उत्तराखंड, नई दिल्ली ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित मुख्यमंत्री परिषद की बैठक...

CM धामी ने नई दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में PM नरेन्द्र मोदी के मन की बात का 101 वां संस्करण सुना।

उत्तराखंड, नई दिल्ली ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मन की बात का 101 वां...