Sunday, June 26, 2022
Home बिज़नेस  भारतीय रेलवे (Indian Railways),; बदल गए ट्रेन में रात को सफर...

 भारतीय रेलवे (Indian Railways),; बदल गए ट्रेन में रात को सफर करने के न‍ियम, जान लीजिये वरना नहीं कर पाएंगे यात्रा

♣ भारतीय रेलवे (Indian Railways)♣

भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने पैसेंजर्स की सहूलियत के लिए नया नियम बनाया है. दरअसल, भारतीय रेलवे समय-समय पर नियमों में संशोधन करता रहता है. अब रेलवे ने रात में यात्र‍ियों (Night Journey) को नींद में होने वाली परेशानी को ध्‍यान में रखते हुए कुछ नए न‍ियम बनाए हैं. इस नियम से अब यात्रियों को रात में नींद के बीच खलल की कोई समस्या नहीं होगी.

लागू हुए नए न‍ियम

हमारी सहयोगी वेबसाइट india.com में प्रकाश‍ित खबर के अनुसार रेलवे ने रात्रि सफ़र के लिए नया नियम लागू कर द‍िया गया है. इसके अनुसार, अब सफ़र के दौरान आपके आसपास कोई भी सहयात्री (Train Passenger) मोबाइल पर तेज आवाज में बात नहीं कर सकेगा और न ही तेज आवाज में गानें सुन सकेगा. दरअसल रेलवे को यात्रियों की तरफ से ऐसी शिकायत लगातार मिल रही थी, जिसके बाद रेलवे ने यह फैसला लिया है. अगर कोई यात्री ऐसा करते पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी.

ट्रेन स्‍टाफ को मिली जिम्मेदारी 

रेलवे ने इस नियम को सही लागू होने की जिम्मेदारी ट्रेन स्टाफ को दी है. नए न‍ियमों के तहत यद‍ि ट्रेन में यात्री से म‍िलने वाली श‍िकायत का समाधान नहीं हुआ तो ट्रेन स्‍टाफ की जवाबदेही होगी, यानी रेलवे स्टाफ से पूछताछ करेगा. रेलवे म‍िन‍िस्‍ट्री (Ministry of Railways) की तरफ से सभी जोन को आदेश जारी कर इसे तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है.

रेलवे को म‍िलती थीं ये श‍िकायतें

रेलवे मंत्रालय की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, रेलवे को अक्सर यात्री साथ वाली सीट पर मौजूद पैसेंजर के मोबाइल पर तेज आवाज में बातें करने या म्‍यूजिक सुनने की श‍िकायत मिलती थी, जिसके बाद यह नियम बनाया गया. ऐसे भी मामले सामने आए जब रेलवे का स्‍कॉर्ट या मेंटीनेंस स्‍टॉफ भी गश्‍त के दौरान जोर-जोर से बातें करता है. यात्रियों के बीच रात में लाइट जलाने को लेकर भी अक्‍सर विवाद होता था. इससे यात्रियों की नींद खराब होती है.

जान लीजिये रात 10 बजे की गाइडलाइन

– कोई भी यात्री सफर में मोबाइल पर तेज आवाज में बात नहीं करेगा या तेज म्‍यूजिक नहीं सुनेगा.
– नाइट लाइट को छोड़कर सभी लाइट बंद करना अनिवार्य होगा.
– यात्री ट्रेन में देर रात तक आपस में बातें नहीं कर पाएंगे.
– रात में चेकिंग स्‍टॉफ, आरपीएफ, इलेक्ट्रीशियन, कैटरिंग स्‍टॉफ और मेंटीनेंस स्‍टाफ फ शांतिपूर्ण ढंग से काम करेंगे.
– 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों, दिव्‍यांगजन और अकेली महिलाओं को रेल स्‍टाफ जरूरत पड़ने पर तत्‍काल मदद मिलना चाहिए.

RELATED ARTICLES

DIZO ईयरबड्स ; 28 जून को आ रहे हैं ये 40 घंटे तक चलने वाले ईयरबड्स, ₹2000 से कम हो सकती है कीमत

♣ DIZO ईयरबड्स ♣ डिजो ने भारत में अपने नए ईयरफोन बड्स पी (Buds P) को लॉन्च करने के लिए तैयार है। कंपनी ने घोषणा...

बिजनेस प्लान कर रहे हैं तो हम बेहद खास बिजनेस आइडिया लेकर आए हैं , जानिए क्या ……

♦♦♦  बिजनेस प्लान Business Idea ♦♦♦ अगर आप भी बिजनेस प्लान कर रहे हैं तो ये खबर आपके लिए ही है. आज हम आपके लिए बेहद खास...

उत्तराखंड में शूट होगी देहाती-डिस्को पार्ट-2, 27 मई को देशभर रिलीज हो रही गणेश आचार्य की देहाती डिस्को

आचार्य बोले उत्तराखंड से है बेहद लगाव, यहां करेंगे आगे की फिल्मों का शूट देहरादून। बॉलीवुड मूवी देहाती डिस्को पार्ट-2 का शूट उत्तराखंड में ही होगा।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ मंच पर विराजमान होकर कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

उत्तराखंड, गुजरात  आज केवड़िया (गुजरात) में दो दिवसीय नेशनल कांफ्रेंस ऑफ मिनिस्टर्स ऑफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स का दूसरा और आखिरी दिन था। अपरान्ह के...

CM धामी ने लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान समारोह कार्यक्रम में किया प्रतिभाग, 27 लोकतंत्र सेनानियों और उनके परिजनों को किया सम्मानित

 उत्तराखंड,  देहरादून :- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को बिगवाड़ा स्थित पार्टी कार्यालय पहुॅचकर ’’आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा हेतु संघर्ष करने एंव...

आपदा प्रबंधन में मीडिया की भूमिका पर कार्यशाला आयोजित हुई।

आपदा के दौरान मीडिया की होती है अहम भूमिका इस अवसर पर अपर सचिव आपदा प्रबंधन आनन्द श्रीवास्तव ने कहा कि मीडिया की भूमिका आपदा...