Sunday, June 26, 2022
Home राष्ट्रीय सुप्रीम कोर्ट ने पूछी घरेलू हिंसा कानून के तहत अब तक के...

सुप्रीम कोर्ट ने पूछी घरेलू हिंसा कानून के तहत अब तक के मामलों की संख्या, नालसा को दिया निर्देश

♦♦♦

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण (नालसा) को घरेलू हिंसा से महिलाओं के संरक्षण कानून, 2005 के तहत अब तक शुरू किए गए मामलों की संख्या के बारे में बताने का निर्देश दिया है। जस्टिस यूयू ललित, जस्टिस एस. रवींद्र भट और जस्टिस पीएस नरसिम्हा की पीठ ने कहा कि इस संबंध में ब्योरा हासिल करने के लिए नालसा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरणों को एक उपयुक्त प्रश्नावली भेज सकता है और आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकता है।

कितने मामलों में आश्रय गृहों की जरूरत पड़ी

अदालत (Supreme Court) ने नालसा को यह भी बताने के लिए कहा है कि कितने मामलों में संरक्षण अधिकारी/सेवा प्रदाता या आश्रय गृहों की सेवाओं की जरूरत पड़ी। केंद्र की ओर से अतिरिक्त सालिसिटर जनरल ऐश्वर्य भाटी ने पीठ को बताया कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा विचाराधीन ‘प्रोजेक्ट शक्ति’ के साथ-साथ कानून एवं न्याय मंत्रालय के तत्वावधान में अन्य परियोजनाएं औपचारिक रूप दिए जाने के चरण में हैं।

‘मिशन शक्ति’ को पहले ही मिल चुकी है कैबिनेट की मंजूरी

भाटी ने बताया कि ‘मिशन शक्ति’ को पहले ही कैबिनेट की मंजूरी मिल चुकी है। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई की तिथि 20 जुलाई तय की है। सुप्रीम कोर्ट घरेलू हिंसा से पीडि़त महिलाओं को प्रभावी कानूनी सहायता प्रदान करने और उनके लिए आश्रय गृह बनाने के लिए देशभर में पर्याप्त बुनियादी ढांचे के अनुरोध संबंधी याचिका पर सुनवाई कर रहा था।

घरेलू हिंसा महिलाओं के खिलाफ सबसे आम अपराध

याचिका में कहा गया है कि 15 साल से अधिक समय पहले कानून लागू होने के बावजूद घरेलू हिंसा भारत में महिलाओं के खिलाफ सबसे आम अपराध है। राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो की 2019 की रिपोर्ट के अनुसार, ‘महिलाओं के खिलाफ अपराध’ के तहत दर्ज किए गए 4.05 लाख मामलों में से 30 प्रतिशत से अधिक घरेलू हिंसा के मामले थे।

 

RELATED ARTICLES

खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ मंच पर विराजमान होकर कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

उत्तराखंड, गुजरात  आज केवड़िया (गुजरात) में दो दिवसीय नेशनल कांफ्रेंस ऑफ मिनिस्टर्स ऑफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स का दूसरा और आखिरी दिन था। अपरान्ह के...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केंद्रीय गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह से शिष्टाचार भेंट की।

उत्तराखंड, दिल्ली ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को नई दिल्ली में केंद्रीय गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह से शिष्टाचार भेंट की। मुख्यमंत्री ने...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत से शिष्टाचार भेंट की।

नई दिल्ली / देहरादून :- मुख्यमंत्री ने जमरानी बाँध परियोजना पर शीघ्र कार्य प्रारम्भ कराये जाने के लिए प्रस्तावित परियोजना को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना (वृहत...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ मंच पर विराजमान होकर कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

उत्तराखंड, गुजरात  आज केवड़िया (गुजरात) में दो दिवसीय नेशनल कांफ्रेंस ऑफ मिनिस्टर्स ऑफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स का दूसरा और आखिरी दिन था। अपरान्ह के...

इंडियन ऑयल ने लॉन्च किया सौर चूल्हा , अब खाना पकाना होगा बेहद सस्ता, जानिए इसकी खासियत

New दिल्ली; भारत की प्रमुख तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) ने बुधवार को घर के अंदर इस्तेमाल किया जाने वाला सौर चूल्हा पेश किया,...

CM धामी ने लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान समारोह कार्यक्रम में किया प्रतिभाग, 27 लोकतंत्र सेनानियों और उनके परिजनों को किया सम्मानित

 उत्तराखंड,  देहरादून :- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को बिगवाड़ा स्थित पार्टी कार्यालय पहुॅचकर ’’आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा हेतु संघर्ष करने एंव...

ससुर ने निभाया पिता का फर्ज, बेटे की मौत के बाद करवाई विधवा बहू की दूसरी शादी

ऋषिकेश ; जिसे कभी बहू बनाकर अपने घर लाए थे, उसे बेटी बनाकर विदा किया। ऐसे उदाहरण समाज में कम ही देखने को मिलते हैं।...

अभद्रता और मारपीट जैसी घटना होने पर चुप न रहे पर्यटक, शिकायत दर्ज कराएं

Rishikesh ; मुनिकीरेती थाना क्षेत्र में राफ्टिंग गाइडों और हेल्परों के पर्यटक के साथ मारपीट करने के कई मामले मामला सामने आए। कुछ मामले में...

आपदा प्रबंधन में मीडिया की भूमिका पर कार्यशाला आयोजित हुई।

आपदा के दौरान मीडिया की होती है अहम भूमिका इस अवसर पर अपर सचिव आपदा प्रबंधन आनन्द श्रीवास्तव ने कहा कि मीडिया की भूमिका आपदा...

……दूरस्थ क्षेत्रों में विज्ञान शिक्षा का प्रचार-प्रसार कर रहा यूसर्क

Tehri Garhwal; विश्वविद्यालय और कालेजों में कार्यरत शिक्षकों में गणितीय प्रतिभा का विकास करने के लिए यहां जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में आयोजित 13...