Wednesday, February 8, 2023
Home उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने होम बार लाइसेंस ( Home Bar License )...

उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने होम बार लाइसेंस ( Home Bar License ) को मंजूरी दे दी

..उत्तर प्रदेश :

अब घर पर ही अपने परिवार के सदस्यों, रिश्तेदारों, अतिथियों और मित्रों के लिए निजी बार का लाइसेंस दिया जा सकेगा। मंगलवार को कैबिनेट की बैठक में इस नियमावली में संशोधन को मंजूरी दे दी गई। अपर मुख्य सचिव संजय आर भूसरेड्डी ने बताया कि उप्र आबकारी (बार लाइसेंस की स्वीकृति) नियमावली (प्रथम संशोधन) 2022 और (आसवनी स्थापना) सोलहवां संशोधन नियमावली के प्रस्तावों को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी।

इसके तहत घर पर निजी बार खोलने के लिए लाइसेंस के प्रचलित प्रावधानों में संशोधन किया गया है। लोग आवासीय परिसर में भारत निर्मित विदेशी मदिरा और विदेश से आयातित मदिरा अपने परिजन, रिश्तेदारों, अतिथियों व मित्रों जिनकी उम्र 21 वर्ष से कम न हो को पीने-पिलाने के लिए होम बार लाइसेंस स्वीकृत किए जा सकेंगे। यह लाइसेंस सालाना जारी होंगे। इसके लिए 12 हजार रुपये शुल्क देना होगा और बतौर सिक्योरिटी 25 हजार रुपये जमा करना होगा। वहीं खास बात यह है कि होम बार का निरीक्षण सिर्फ आबकारी आयुक्त की अनुमति से ही किया जा सकेगा।

व्यावसायिक लाइसेंस के नियमों में भी दी गई ढील
उत्तर प्रदेश आबकारी (बार लाइसेंस की स्वीकृति) नियमावली 2022 में संशोधन करते हुए बार लाइसेंस के लिए जरूरी बैठने के क्षेत्रफल को अब 200 वर्गमीटर की जगह न्यूनतम 100 वर्गमीटर कर दिया गया है। यानी कम जगह में भी बार खोला जा सकेगा। वहीं, न्यूनतम 40 लोगों की बैठने की क्षमता को अब कम कर 30 का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा होटल व रेस्टोरेंट आदि में बार लाइसेंस लेने के लिए जरूरी भोजन कक्ष के प्रावधानों को शिथिल कर दिया गया है। वहीं स्थानीय प्राधिकरण से लाइसेंस प्राप्त करने की अनिवार्यता को खत्म कर दिया गया है।

मिश्रित आसवनियों के पेय मदिरा निर्माण की क्षमता बढ़ाई

कैबिनेट ने उप्र आबकारी (आसवनी स्थापना) सोलहवां संशोधन नियमावली 2022 के प्रस्तावों को भी मंजूरी दे दी। वर्तमान नियमावली में मिश्रित आसवनियों को उनकी कुल क्षमता का 90 फीसदी तक पेय मदिरा निर्माण की अनुमति देने की व्यवस्था है। इसे बढ़ाकर अब 95 प्रतिशत तक किए जाने का निर्णय लिया गया।

होम बार में रख सकेंगे 15 कैटगरी की 71 बोतलें
अपर मुख्य सचिव आबकारी के मुताबिक पहले घर में चार बोतल (750 मिली) तक शराब निशुल्क रखने की मंजूरी थी। अब इस नीति को संशोधित किया गया है। इसमें अब घर में 15 कैटगरी की छोटी-बड़ी 71 बोतलें तक रखी जा सकेंगी।

RELATED ARTICLES

उत्तर प्रदेश, बरेली : जामा मस्जिद को बम से उड़ाने की धमकी, इस चिट्ठी से मचा हड़कंप

उत्तर प्रदेश, बरेली ; राजधानी से तकरीबन 250 किलोमीटर दूर झुमका शहर के नाम से मशहूर बरेली का माहौल बिगाड़ने की कोशिश हो रही है....

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ : 5 साल में प्रदेश के हर परिवार के एक सदस्य को नौकरी देगी सरकार, विकास हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता

उत्तर प्रदेश, हापुड़ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। प्रधानमंत्री के संकल्प के साथ जुड़कर प्रदेश एक भारत और श्रेष्ठ...

CM Yogi ने दिए निर्देश, 1 October से पश्चिमी और 1 November से पूर्वी यूपी में शुरू होगी धान की खरीद

उत्तर प्रदेश, Lucknow : सीएम के निर्देश पर खाद्य एवं रसद विभाग ने खरीफ सीज़न में धान खरीद की तैयारी शुरू दी है। एक अक्तूबर...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

दीनदयाल मिनी सचिवालय के स्वरुप को विकसित करने में तेजी लायें : महाराज

पंचायतीराज विभाग बैठक में सतत विकास लक्ष्यों को हासिल करने पर जोर देहरादून। ग्राम पंचायतों में सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए विभागों...

काश्तकारों का मुआवजा समय पर दिया जाए : महाराज

विधानसभावार द्वितीय चरण स्टेज-2 सड़कों की हुई समीक्षा, मंत्री ने की विधानसभा क्षेत्र चौबट्टाखाल में सड़कों की रिपोर्ट तलब देहरादून। प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, पंचायती...

सीएम धामी से अंतर राज्य छात्र जीवन दर्शन के अंतर्गत पूर्वोत्तर भारत से आये छात्रों के दल ने की भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से देर सायं मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्यमंत्री सेवक सदन में अंतर राज्य छात्र जीवन दर्शन के अंतर्गत पूर्वोत्तर भारत से...

क्षेत्रीय विधायक व मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने दिव्य श्रीराम कथा के दूसरे दिन शिरकत की और प्रदेश की खुशहाली की कामना की।

उत्तराखंड प्राचीन सोमेश्वर महादेव प्रांगण में हो रही भव्य श्री राम कथा के दूसरे दिवस में संत श्री लक्ष्मी नारायणनंद जी महाराज ने सत्संग की...

महाराज ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से भेंट कर उनकी कुशलक्षेम पूछी

देहरादून / दिल्ली। प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, सिंचाई, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति सतपाल महाराज ने केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जोशीमठ के लिए राहत सामग्री को झंडी दिखाकर किया रवाना

उत्तराखंड, नई दिल्ली मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली स्थित उत्तराखंड सदन में भाजपा उत्तराखंड प्रकोष्ठ, फरीदाबाद व  हरियाणा प्रोग्रेसिव स्कूल कांफ्रेंस...

धाकड़ ध्यानी के दमदार फैसलों पर सीएम धामी की मुहर, पिटकुल MD पद पर मिला एक साल का सेवा विस्तार

देहरादून। ऊर्जा क्षेत्र में पारदर्शिता और स्वस्थ कार्यप्रणाली प्रबंधन विकसित करने की कवायद में जुटे हैं पिटकुल के प्रबंध निदेशक पीसी ध्यानी। अपनी माटी और...

दुनिया को एकता के सूत्र में पिरोने का कार्य किया’संत रविदास ने – कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या

  उत्तराखंड,   देहरादून   आज प्रदेश की कैबिनेट मंत्री श्रीमती रेखा आर्या संत रविदास जी की जयंती के अवसर पर सेलाकुई स्थित कार्यक्रम में पहुंची। जहां...

महाराज ने एशिया के पहले होम स्टे हब तिवाड गांव मरोड को किया पर्यटन ग्राम घोषित

सतपाल महाराज ने कुलानंद आश्रम सेम-मुखेम में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में भी किया प्रतिभाग टिहरी। वर्ष 2023 को विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं बैठक का आयोजन किया गया।

 उत्तराखंड, देहरादून : उत्तराखण्ड के मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में शनिवार को देहरादून में मध्य क्षेत्रीय परिषद की स्थायी समिति की 15वीं...